स्टाफ की कमी से पीड़ित शिक्षा का मंदिर उत्कृष्ट हायर सेकेंडरी स्कूल..

फ्लैश न्यूज ब्रेकिंग न्यूज़ मध्य प्रदेश शिक्षा सामाजिक समाचार

देपालपुर। कहने को तो बच्चों की शिक्षा के लिए शासन सीएम रईस स्कूल खोल रहा है जिसमें केंद्रीय विद्यालय की भर्ती एवं निजी स्कूलों से अच्छी सुख सुविधा एवं आवास व्यवस्था के लिए बड़ी-बड़ी घोषणाएं की जा रही है वही दूसरी ओर तहसील मुख्यालय का उत्कृष्ट हायर सेकेंडरी स्कूल स्टाफ की कमी के चलते शिक्षा प्राप्त करने वाले विद्यार्थी का भविष्य दम तोड़ता हुआ नजर आ रहा है कहने को तो यहां 16 अध्यापकों की नियुक्ति है लेकिन वर्तमान समय में मात्र 6 शिक्षक कार्यरत है उनमें से दो अध्यापक स्थानांतरण होने के कारण अन्यत्र चले जाएंगे 10 अध्यापकों के पद रिक्त है हिंदी अंग्रेजी गणित भूगोल जीव विज्ञान राजनीति शास्त्र समाजशास्त्र पढ़ाने वाले अध्यापकों की कमी के चलते बड़ी मुश्किल से उपलब्ध शिक्षकों के माध्यम से जैसे तैसे बच्चों को अध्ययन कार्य करवाया जा रहा है साफ सफाई के लिए एक भी चपरासी स्कूल में नहीं है स्टाफ द्वारा जैसे तैसे साफ सफाई करवाई जाती है तहसील मुख्यालय का उत्कृष्ट हायर सेकेंडरी स्कूल की यह हालत है तो ग्रामीण क्षेत्रों के सरस्वती के शिक्षा के मंदिरों की क्या हालत होगी इसी से अंदाज लगाया जा सकता है विकासखंड के गौतमपुरा दो चपरासी है बेटवा ने भी दो चपरासी हैं लेकिन विकासखंड मुख्यालय पर एक भी चपरासी उपलब्ध नहीं है
जिला शिक्षा अधिकारी यदि रुचि ले तो इन रिक्त पदों पर आगामी होने वाली अध्यापकों की नई नियुक्ति से पूर्ति की जा सकती है।कैसे पढ़ेंगे नौनिहाल जब पढ़ाने वाले शिक्षक ही न हो सोते साबित हो रहे हैं शासन के वादे। जिला शिक्षा अधिकारी मंगलेश व्यास से बात करने की कई बार कोशिश की गई फोन नहीं उठाया।

सूचना :- यह खबर संवाददाता   के द्वारा अपडेट की गई है। इस खबर की सम्पूर्ण जिम्मेदारी संवाददाता जी की होगी। www.loktantraudghosh.com लोकतंत्र उद्घोष या संपादक मंडल की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *