💕अपनो से अपनी बात : कुक्षी जिला बनाने की मांग II

फ्लैश न्यूज ब्रेकिंग न्यूज़ मध्य प्रदेश सामाजिक समाचार

🙏🏻🌹नमस्कार…
सभी संभावित जिला कुक्षी क्षेत्र के सम्मानीय गणमान्य नागरिक, माता-बहनों… आपने अब तक जनहित व क्षेत्र के विकास के लिए किए गए आंदोलनों में अपना अमूल्य सहयोग समर्थन दिया, जिसका हृदय की गहराइयों से आभार व्यक्त करता हूँ।
क्षेत्र के विकास के लिए ही लम्बे समय से चली आ रही कुक्षी को जिला बनाने की मांग को भी उच्च स्तर पर शासन-प्रशासन के संज्ञान में लाकर प्रक्रिया में है।
“कुक्षी जिला बनाओ आंदोलन” को भी गति देने में आप सभी का सहयोग, समर्थन मिला और हम क्रमबद्ध आंदोलन करने के लिए तैयार है।
बता दे, पूर्व में भी हस्ताक्षर अभियान, राजनीतिक व सामाजिक संगठनों के समर्थन पत्र प्राप्त कर समस्त जानकारी से पूर्ण मांग प्रस्ताव पत्र शासन को भेज चुके है। लगातार हम ध्यानाकर्षण करवाकर कार्यवाही को गति देने के लिए प्रयासरत है।
कुक्षी जिला बनाने की मांग हेतु मैं दिनांक: 07 अक्टूम्बर 2021 से 26 जनवरी 2022 गणतंत्र दिवस (112 दिवस) तक मौन भी रहा हूँ।
कुक्षी जिला बनाने की मांग को लेकर दिनांक : 27 फरवरी 2022 रविवार से अनिश्चिकालीन साप्ताहिक धरना प्रदर्शन भी माँ गायत्री मंदिर प्रांगण कुक्षी में जारी है। मुख्यमंत्री सहित तमाम शासन-प्रशासन, विपक्ष, जनप्रतिनिधियों को पत्र के माध्यम से अवगत करवा रहें है।
यहां तक कि, मुख्यमंत्री को खून से लिखकर पत्र प्रेषित किया।
दिनांक : 25 मई 2022 से 11 दिवस में लगभग 800 किमी की दूरी तय कर साइकिल यात्रा करते हुए कुक्षी से आरएसएस मुख्यालय नागपुर (महाराष्ट्र) पहुँचकर कुक्षी जिला बनाने का मांग प्रस्ताव पत्र सौपा।
शासन-प्रशासन को सद्बुद्धि देने हेतु संभावित कुक्षी जिला क्षेत्र में शिव आराधना के पवित्र श्रावण माह में अतिप्राचीन 12 शिवलिंगों का अभिषेक किया।
संभावित कुक्षी जिला क्षेत्र में दिनांक:25 नवंबर 2022 से जनजागृति हेतु “जनहित का सफ़र” नामक जनसंपर्क यात्रा की गई।
संभावित कुक्षी जिला क्षेत्र में गाँव-गाँव, फलिए-फलिए से ग्रामीणों द्वारा मुख्यमंत्री के नाम पोस्ट कार्ड द्वारा ज्ञापन मुख्यमंत्री कार्यालय भोपाल भेजे गए। संभावित कुक्षी जिला क्षेत्र में लोगों से संवाद कर समर्थन लेते हुए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। धार्मिक, सामाजिक व राजनीतिक संगठनों के समर्थन पत्र प्राप्त कर मुख्यमंत्री कार्यालय भोपाल भेजें। संभावित कुक्षी जिला क्षेत्र में व्यापारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रख समर्थन कर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौपा। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के कुक्षी जिला बनाने के विषय में भेदभावपूर्ण रवैये के कारण शारदीय नवरात्र (वर्ष-2022) की महानवमी से जूते चप्पल का त्याग कर नंगे पैर चलता अनवरत जारी है।

इसी कड़ी में अब आंदोलन को गति देते हुए दिनांक: 31 मई 2023 बुधवार समय: शाम 4 बजे स्थान: पंचमुखी माँ गायत्री मंदिर प्रांगण कुक्षी में माँ गायत्री के जन्मोत्सव दिवस से अनिश्चितकालीन उपवास (आमरण अनशन) प्रारंभ होगा।

कॉलम का नाम ही मैने अपनी बात लिखा है, क्योंकि मैं आपका और आप सभी मेरे हो और अपनो से अपनी बात कह रहा हूँ।
आपने माँ गायत्री मंदिर सरोवर के सौंदर्यीकरण आंदोलन में भी खूब समर्थन व सहयोग किया, जिसके परिणाम है कि,आज पर्यटन विभाग से विकास कार्य चल रहे और जनसहयोग से सफाई व गहरीकरण कार्य हुआ।
इसके अलावा भी अन्य मुद्दों पर हमने लड़ाई जारी रखी है।
म.प्र. के बड़े जिलों में है धार और उसकी बड़ी तहसील कुक्षी है। कुक्षी को जिला बनाने के विषय पर नेता पाला बदलते रहें क्योंकि, वह अपने राजनीतिक उद्देश्यों की पूर्ति के लिए जिले की मांग पर बयान देते है। कोई भी राजनीतिक दल का क्यों न हों, उन्हें आपसे वोट चाहिए इसलिए भ्रमित कर प्रलोभन देकर अपना स्वार्थ साधना चाहते है। उन्हें मतलब नही कुक्षी जिला बने या और कोई… उनका हित जिसमें होगा उसी को दृष्टिगत रख जनहित को धता बताकर अपना पक्ष रखेंगे और खुद के काम निकालेंगे।
स्पष्ट यह कर दूं कि, मुझे चुनाव नही लड़ना है और न ही वोट चाहिए। सिर्फ जनहित व क्षेत्र के विकास में दृढ़ संकल्पित होकर जिन विषयों पर हम आंदोलित है उसमें आपका सहयोग समर्थन की अपेक्षा रखता हूँ।
संभावित जिला कुक्षी के क्षेत्र में आने वाले मनावर, सिंघाना, उमरबन, गंधवानी, बाग़, टांडा, डही, निसरपुर सहित पूरा क्षेत्र हमारा है और हम सभी का विकास चाहते है।
और हाँ… मुझे पत्थरों पर नाम भी नही लिखवाना है, सफल होने के बाद कोई भी श्रेय ले और बड़े-बड़े नाम लिखवाये।
मैं नेता नही जनसेवक हूँ, इसलिए जनहित के हर विषय पर दृढ़ संकल्पित होकर परिणाम तक प्रयासरत रहता हूँ।
हमारे क्षेत्र की वर्तमान में सबसे अधिक महत्वपूर्ण जिला बनाने की मांग को लेकर हो रहा यह आंदोलन जन-जन से जुड़ा होकर हम सभी का जनांदोलन है। इसमें बिना बुलावे, किसी भी प्रकार से सहभागी होना चाहिए।
आपसे आत्मीय अनुरोध है कि, राजनीतिक हानि-लाभ छोड़कर जनहित के लिए सकारत्मक सोच रखते हुए एक मत होकर सहयोग समर्थन के साथ इस जनांदोलन से जुड़कर कुक्षी जिला बनाने के दृढ़ संकल्प के आप सभी सहभागी बनें।
साथ ही यह भी कहना चाहूंगा कि, हमारे द्वारा जो भी जनहितैषी मुद्दे उठाए जा रहे उसमें सफलता मिलने से जन सामान्य व क्षेत्र का ही विकास हो ऐसी मंशा रखते हुए निःस्वार्थ समर्पित होकर कार्य किया जा रहा है। असफल होने पर भी मेरा निजी नुकसान नही होना है, पर दृढ़ संकल्पित हूँ कि, आपका व क्षेत्र के विकास के लिए निर्विकल्प सफल होंगे।
मेरे उन कुछ अपनों को भी कह देना चाहूंगा कि, किसी भी प्रकार का मुगालता न पालें, माँ गायत्री नर्मदा की कृपा से बड़े से बड़ा दर्द सहने की भी हिम्मत, सहनशीलता है, और बड़ी से बड़ी ताकत से लड़ने का भी साहस है। जो जैसे समझेगा समझा दूँगा।
कुनेता नही हूँ जो पलट जाऊं, जनसेवक हूँ और निर्विकल्प कुक्षी को जिला बनाने हेतु दृढ़ संकल्पित हूँ।
आप सभी से पुनः हृदय की गहराइयों से विनम्रतापूर्वक प्रार्थना है, एक मत होकर जन-जन के विकास के लिए आगे आये और जनता के लिए, जनता के द्वारा, जनसहयोग से हो रहे “कुक्षी जिला बनाओं आंदोलन” का सहयोग समर्थन करें।

इन्हीं स्पष्ट अपनी बात के साथ धन्यवाद…

 

सूचना :- यह खबर संवाददाता   के द्वारा अपडेट की गई है। इस खबर की सम्पूर्ण जिम्मेदारी संवाददाता जी की होगी। www.loktantraudghosh.com लोकतंत्र उद्घोष या संपादक मंडल की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *